Online earn money, Computer/Mobile Tips, Tricks, educational information, Health Tips, medical advice, News, Business Tips, Business Ideas, History post. You will also read post like to create a blog live your passion. Basic advanced WordPress, Blogger help, SEO, and Social media, marketing techniques.

Tuesday, October 8, 2019

SEO (Search Engine optimization)

SEO  सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन


 Seo  हमारी वेबसाइट के लिए बहुत ही आवश्यक है मैं आपको seo के बारे में हिंदी में जानकारी देने वाला हूं।

जब हम कोई वेबसाइट बनाते हैं और उस वेबसाइट को जहां हम गूगल पर सर्च करते हैं तो हमारी वेबसाइट नहीं मिल पाती क्योंकि गूगल हमारी बनाई हुई वेबसाइट को ढूंढ नहीं पाता।
 जैसे कि अगर कोई हमारे घर आना चाहता है और हम उस आदमी से सिर्फ यह बोल दें  की दिल्ली आ जाओ क्या वह मेरे घर पहुंच सकता है । नहीं क्योंकि मैंने उसको अपने घर का पूरा एड्रेस नहीं दिया है इसलिए वह दिल्ली तो पहुंच जाएगा लेकिन मेरे घर नहीं पहुंच पाएगा ठीक उसी प्रकार हम वेबसाइट तो बना लेते हैं लेकिन गूगल को कैसे पता चलेगा कि इस वेबसाइट को अगर कोई ढूंढे तो गूगल उसे सर्च करके दिखा दे।

 गूगल भी एक सिर्फ वेबसाइट ही है तो इसलिए गूगल  को बिना बताए गूगल आपकी वेबसाइट को नहीं ढूंढ सकता गूगल को बताने का माध्यम एस ई ओ ही है एस ई ओ एक बहुत बड़ी और भिन्न-भिन्न तरह की सेटिंग्स हैं जो कि हम वेबसाइट को गूगल में रैंक कराने के लिए करते हैं।

 जैसे कि मैंने ऊपर एग्जांपल देकर समझाने की कोशिश की है की जिस प्रकार हम किसी आदमी को अपने घर बुलाने के लिए पूरा एड्रेस नहीं देंगे तो वह आदमी हमारे घर नहीं पहुंच पाएगा क्योंकि उसको पूरा पता मालूम नहीं है ठीक उसी प्रकार गूगल को भी हमें अपनी वेबसाइट के बारे में बताना होता है कि हमारी वेबसाइट इस सब्जेक्ट के ऊपर है और हमारी वेबसाइट में आपको इस तरह की जानकारियां मिलेंगी या हमारी वेबसाइट से आप इस तरह की नॉलेज ले पाएंगे तो यह सब आपको कोडिंग के माध्यम से लिंक के माध्यम से वेबसाइट को बताना होगा

 अगर आप नई वेबसाइट बनाई है और आप गूगल में उसको रैंक कराना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले परमा लिंक ऐड करना होता है परमा link  एक बहुत छोटा कोड होता है जो कि बिना स्पेस के लिखा जाता है परमा लिंक हमारी वेबसाइट को गूगल में सर्च कराने के लिए बहुत उपयोगी है  आपने देखा होगा की वेबसाइट जवाब किसी की खोलते हैं तो उसके पीछे बिना स्पेस का 10 ya 15 शब्द का एक लिंक में पीछे लिखा हुआ होता है वहीं पर मलिक होता है परमा लिंग को हम अपने पोस्ट के हिसाब से सेट करके लिखते हैं जिसके ऊपर आप की वेबसाइट होती है आप उसी से संबंधित शब्दों का चयन करके आपको परमा लिंक सेट करने चाहिए जिससे कि आप की वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करने में आसानी हो

 परमा लिंक के साथ-साथ हमें और बहुत सारे एस ई ओ करना पड़ता है जैसे कि बैकलिंक्स सर्च कंसोल मैं सेटिंग करना वेबसाइट इंडेक्सिंग  आदि बहुत सारे सेटिंग करनी होती हैं जिससे कि हमारी वेबसाइट गूगल में रंग करना स्टार्ट हो जाती है  एस ई ओ दिन प्रतिदिन चेंज होती रहती है ऐसा नहीं है कि आज हमने एस ई ओ सीख लिया और हम एसपीओ के मास्टर हो गए और अब हमको सब कुछ आ गया  SEO गूगल समय-समय पर चेंज करना होता है गूगल के हिसाब से क्योंकि गूगल जब समझ जाता है की यूजर को वेबसाइट रैंक कराने मैं क्या यूजर सबसे ज्यादा यूज कर रहा है तो गूगल अपनी सेटिंग्स को समय-समय पर चेंज करता रहता है ताकि सही और सटीक जानकारी वाली वेबसाइट ही ऊपर रैंक हो पाए कोई भी अपनी वेबसाइट को ऊपर ना कर पाए जिस वेबसाइट में कुछ भी नहीं है सिर्फ अच्छी वेबसाइट ही ऊपर इंडेक्सिंग में आप आए जिससे कि गूगल के यूजर को सही जानकारी मिल पाए और गूगल का यूजर फुल्ली सेटिस्फाई हो जाए गूगल अपनी सेटिंग्स को अपने यूजर को ध्यान में रखते हुए समय-समय पर चेंज करता रहता है और उसी के हिसाब से फिर s e o में भी चेंज करने पड़ते हैं।

 आज मैंने आपको एसडीओ के बारे में बेसिक जानकारी देने की कोशिश की है आगे आने वाली वेबसाइटों में मैं आपको बताऊंगा की  एस ई ओ करके हम अपनी वेबसाइट को कैसे गूगल में रैंक करा सकते हैं इंडेक्सिंग कैसे कर सकते हैं सर्च कंसोल में हम कैसे काम कर सकते हैं और बहुत सारी जानकारियां मैं आपके समक्ष लाता रहूंगा तो प्लीज मेरे इस वेबसाइट को सब्सक्राइब या फॉलो करें।


No comments:

Post a Comment