Online earn money, Computer/Mobile Tips, Tricks, educational information, Health Tips, medical advice, News, Business Tips, Business Ideas, History post. You will also read post like to create a blog live your passion. Basic advanced WordPress, Blogger help, SEO, and Social media, marketing techniques.

Sunday, December 15, 2019

Credit Card के फायदे ओर नुकसान

 क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान




 क्रेडिट कार्ड रखने के बहुत फायदे हैं तो बहुत नुकसान भी हैं कैट कार्ड को यूज करने से पहले आपको इसके बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए अगर आपको पूरी जानकारी नहीं होगी तो आप काफी नुकसान का सामना कर सकते हैं कैट कार्ड 1 तरीके का कर्ज होता है बैंक आपकी क्रेडिट स्कोर को ध्यान में रखते हुए आपको क्रेडिट कार्ड देता है
जो लोग क्रेडिट स्कोर के बारे में नहीं जानते वह सोच रहे होंगे कि यह क्या है मैं आपको संक्षेप में बताता हूं कि क्रेडिट स्कोर आपकी वैल्यूएशन के हिसाब से होता है जैसे कि आप अगर कहीं जॉब करते हैं या बिजनेस करते हैं और बैंक से आपका लेनदेन ठीक प्रकार से चल रहा है तो आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा होगा अगर आपने बैंक से लोन ले रखा है और उस लोन को आप सही टाइम पर नहीं चुका पा रहे हैं तो आप का क्रेडिट स्कोर डाउन होता चला जाएगा फिर आपको कोई भी बैंक लोन या क्रेडिट कार्ड नहीं देगा तो आपको कोशिश करनी है कि बैंक के साथ रिलेशन आपका अच्छा रहे

 अब बात करते हैं क्रेडिट कार्ड को कैसे लिया जाए तो उसके लिए आपको ऑनलाइन किसी भी बैंक की साइट पर जाकर अप्लाई कर देना होता है या किसी एजेंट के थ्रू भी आप क्रेडिट कार्ड अप्लाई कर सकते हैं ज्यादातर बैंकों ने अपने एजेंट बना रखे हैं उनके द्वारा भी आप कैट कार्ड अप्लाई करा सकते हैं या आप किसी भी ब्रांच में जाकर जिस बैंक का आप कैद कर लेना चाहते हैं उस बैंक में जाकर आप ऑफलाइन फॉर्म भी जमा करके क्रेडिट कार्ड ले सकते हैं कैट कार्ड आपको आपकी इनकम के आधार पर मिलता है आपकी मंथली इनकम अगर आप जॉब करते हैं तो 15000 से ऊपर होनी चाहिए

अब बात करते हैं क्रेडिट कार्ड के फायदे क्या-क्या हैं




 1) क्रेडिट कार्ड से आप बैंक अकाउंट में पैसा न होते हुए भी आप शॉपिंग आदि कर सकते हैं यह एक प्रकार का आपको लोन के रूप में एडवांस में एक निश्चित राशि उस कार्ड के द्वारा दी जाती है उस राशि को ही आप यूज कर पाते हैं।

 2) क्रेडिट कार्ड से आप खरीददारी करने के बाद आपको 50 दिन का समय पेमेंट को चुकाने का दिया जाता है 50 दिन के अंदर ही आपको उसका भुगतान कर देना होता है कैट कार्ड से आपको काफी समय पेमेंट को छुपाने का मिलता है।


3) क्रेडिट कार्ड से आप एटीएम से कैश भी निकाल सकते हैं लेकिन ध्यान रखें एटीएम से कैश किसी इमरजेंसी में ही निकाले क्योंकि यहां पर बहुत ही अच्छा खासा ब्याज और पैनल्टी लगती है अगर आप किसी इमरजेंसी में कैसे निकालते हैं तो आपको किसी के सामने जाकर पैसे मांगने की जरूरत नहीं होती है और आप अपना काम आसानी से कर पाते हैं यह कैट कार्ड का एक बहुत अच्छा फायदा है।

 4) क्रेडिट कार्ड आपके क्रेडिट स्कोर को बिल्ड करने में बहुत सहायता करता है क्योंकि इससे महीने में काफी लेनदेन हो जाता है और अगर आप टाइम से इसकी पेमेंट करते हैं तो कैट्स को काफी अच्छा हो जाता है।

5) अगर आप क्रेडिट कार्ड  से शॉपिंग करते हैं तो आप कोई यहां पर रिवार्ड्स पॉइंट मिलते हैं और इन रिवॉल्ट प्वाइंटों को आप रिद्धिम भी कर सकते हैं।

6) क्रेडिट कार्ड से अगर आप शॉपिंग करते हैं तो आप अपनी की हुई शॉपिंग को ईएमआई में कन्वर्ट करा सकते हैं जैसे कि अगर आपने 10000 की शॉपिंग की है तो आप के पास ₹10000 एक साथ जमा करने के लिए नहीं है तो आप उसकी 3:00 या 6:30 या 12:00 किस्त भी आप बना सकते हैं तो इससे आपका पैसा बहुत कम ब्याज लगकर फट जाता है यह भी एक बहुत अच्छा फायदा है।

7) क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करने पर आपको महीने के लास्ट में एक स्टेटमेंट बैंक की तरफ से बनता है और उसमें आपकी सारी खरीदारी की डिटेल होती है उस डिटेल के आधार पर आप अपने बजट को कम ज्यादा कर सकते हैं।

अब बात करते हैं क्रेडिट कार्ड के नुकसान की





1) जब आप क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करते हैं तो आपको 50 दिन का टाइम मिलता है ऐसा जब आप कैद कार्ड लेते हैं तब बैंक की तरफ से बोला जाता है तो जानकारी पूरी ना होने की वजह से यूजर ज्यादा शॉपिंग कर लेता है और फिर वह समझता है कि 50 दिन बाद ही तो देना है और उसको जानकारी ना होने की वजह से बिल जनरेट हो जाता है और 2 या 4 दिन में ही उसकी पेमेंट करनी होती है तो उस कंडीशन में अगर वह पेमेंट नहीं कर पाता है तो बैंक बहुत ही ज्यादा पेनल्टी और ब्याज लगाता है जो कि एक बहुत ही ज्यादा नुकसान है 50 दिन आपकी स्टेटमेंट को जनरेट होने के बाद आपको 50 दिन मिलते हैं तो आप याद रखें कि जब आपकी स्टेटमेंट जनरेट होने की तारीख है उसके अगले दिन आप अगर आप शॉपिंग करते हैं तो आपको पूरे 50 दिन मिलेंगे अगर उसके बाद जितने भी दिन गुजरेंगे वह दिन आपके 50 दिन में से कम होते चले जाएंगे।

2) एटीएम से अगर आपके क्रेडिट कार्ड से cash निकालते हैं तो आपको उसी समय से ब्याज लगना और पैनल्टी लगनी शुरू हो जाती है लेकिन इतनी ज्यादा भी नहीं होती कि आप उसके डर से किसी इमरजेंसी में पैसे ना निकाले लेकिन कोशिश करें कि बहुत ज्यादा इमरजेंसी अगर है तो ही आप एटीएम से कैसे निकाले।

3) लिमिट से ज्यादा अगर आप क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करते हैं तो आपको बहुत ज्यादा पेनल्टी देनी होती है लिमिट से ज्यादा मतलब कि अगर आपकी लिमिट ₹50000 की है और अगर आप ₹52000 की शॉपिंग कर रहे हैं तो बैंक की तरफ से आपको ज्यादा शॉपिंग करने का पेनल्टी देनी होगी बैंक समझता है कि यूजर को हो सकता है कि उसको जरूरत हो और उसने ₹52000 खर्च कर लिए हैं तो वह एलाऊ कर देता है और उसके ऊपर पेनल्टी जोड़कर आपके दिल में दे देता है तो ध्यान रखें की लिमिट से ज्यादा शॉपिंग ना करें जितनी आपके कार्ड की लिमिट है उतनी ही आप शॉपिंग करें।




4) क्रेडिट कार्ड से अगर आप इंटरनेशनल वेबसाइट में पेमेंट करते हैं तो बैंक इंटरनेशनल वेबसाइट कि कोई भी डिटेल नहीं रखता वह सिर्फ अपने देश की पेमेंट को ही निगरानी में रखता है तो इससे आपको इंटरनेशनल वेबसाइटों से फ्रॉड होने का खतरा बना रहता है।
क्रेडिट कार्ड में बहुत सारे hidden इंचार्ज भी होते हैं तो एक बार क्रेडिट कार्ड जब आप रिसीव करते हैं तो उसकी टर्म्स एंड कंडीशन उसी कार्ड के साथ जो पेपर होता है उसमें लिखी होती हैं तो एक बार आपको उसकी जानकारी ले लेनी चाहिए।

 दोस्तों आपको क्रेडिट कार्ड के बारे में जानकारी काफी पसंद आई होगी अगर आप ध्यान से सावधानी से कैट कार्ड का स्मार्ट यूज़ करते हैं तो क्रेडिट कार्ड आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होता है अगर आप जरा सा भी लापरवाही करते हैं तो बैंक उस लापरवाही का हर्जाना पेनल्टी और ब्याज लगाकर लेता है जो कि किसी भी आम व्यक्ति को बहुत ज्यादा होता है।

धन्यवाद



No comments:

Post a Comment